Breathe Into the Shadows Review in Hindi

अभिषेक बच्चन की पहली Web Series Breathe Into the Shadows अमेजन प्राइम पर रिलीज़ हो गई है। आज हम इसी सीरीज का Review करेंगे और जानेंगे कैसी है यह सीरीज।

Breathe Into the Shadows Review

Cast :- Abhishek Bachchan, Nithya Menen, Amit Sadh, Ivana Kaur, Hrishikesh Joshi, Shrikant Verma, Kuljeet Singh, Shruti Bapna, Pawan Singh

Directed by :- Mayank Sharma

Rating :- 3.5/5 Star

Story

अविनाश सभरवाल (अभिषेक बच्चन) अपनी पत्नी आभा (नित्या मेनन) और 6 साल की बेटी सिया (इवाना कौर) के साथ दिल्ली में रहते है। एक दिन अचानक से अविनाश सभरवाल की बेटी सिया गायब हो जाती है।

अविनाश सभरवाल पेशे से साइकायट्रिस्ट है और पुलिस के साथ मिलकर उन्होंने कई केस को सॉल्व किया है जिसकी वजह से पुलिस महकमे में उनकी काफी जान पहचान है फिर भी तमाम कोशिशों के बावजूद वह अपनी बच्ची को नहीं ढूंढ पाते है।

जैसे-जैसे समय बीतता चला जाता है वैसे-वैसे बच्ची के जिन्दा होने का आस भी कम होने लगता है और अविनाश सभरवाल और आभा अपनी जिंदगी को फिर से नार्मल करने का प्रयास करने लगते है।

सिया के गायब होने के 9 महीनो के बाद अविनाश सभरवाल के नाम का एक कुरियर आता है। कुरियर में वीडियो मैसेज होता है जिसमे किडनैपर सिया के जिन्दा होने का सबूत देता है और प्रितपाल सिंह (कुलजीत सिंह) का खून करने और उसका वीडियो रिकॉर्डिंग कर एक नंबर पर सेंड करने को बोलता है।

अविनाश सभरवाल पुलिस के पास जाना चाहता है लेकिन आभा अविनाश को पुलिस के पास जाने से रोक लेती है।

अविनाश ना चाहते हुए भी प्रितपाल सिंह को मरता है और मारने के बाद अपनी बच्ची के घर लौटने का इंतजार करने लगता है लेकिन बच्ची के बदले एक और कुरियर आता है और उस कुरियर में नताशा गरेवाल (श्रुति बापना) का खून करने और उसका वीडियो रिकॉर्डिंग कर उसी नंबर पर सेंड करने को बोलता है।

अब आभा अविनाश को बोलती है पुलिस के पास जाने के लिए लेकिन अविनाश नहीं जाता क्युकी अब वह पुलिस के पास गया तो वह फस जाएगा।

इसी बिच अविनाश को रावण के दस सर का कॉन्सेप्ट पता चलता है, इसी कॉन्सेप्ट पर किडनैपर अविनाश से खून करवाता है। अब अविनाश को समझते देर नहीं लगती की नताशा गरेवाल के बाद उसे 8 खून और करने है।

अब अविनाश नताशा गरेवाल को नहीं मरना चाहता इतने में ही आभा को अपने कार में एक टेप रिकॉर्डर मिलता है और वह अविनाश को फ़ोन करती है, अविनाश सोया रहता है फ़ोन आने के बाद जागकर फ़ोन रिसीव करता है जिसमे आभा टेप रिकॉर्डर के बारे में बताती है और अविनाश आभा के होटल जाने को निकलता है। जैसे ही अविनाश निकलता है उसे अपने घर में खून बिखरा हुआ दीखता है और उसे भी एक टेप रिकॉर्डर मिलता है।

मजबूरन ये दोनों नताशा गरेवाल को मारने के लिए राजी हो जाते है और प्लानिंग करने लगते है। इतने में ही पाचवे एपिसोड का अंत हो जाता है और एक बड़े रहष्य से पर्दा उठता है जिसे देखकर आप ढंग रह जाओगे।

इससे आगे की कहानी मैं आपको नहीं बताऊंगा क्योकि इससे आगे की कहानी जानने के बाद इस सीरीज को देखने का पूरा मजा खराब हो जाएगा।

इसी कहानी के बिच इंस्पेक्टर कबीर सावंत (अमित साध) का भी कहानी चलता रहता है। कबीर सावंत जो ब्रेथ सीजन 1 में मुंबई में थे वह ट्रांसफर लेकर इस सीजन में दिल्ली में आ गए है। इस सीजन में कबीर सावंत के बारे में जितना कम जानेंगे उतना ही अच्छा है।

इस सीरीज में प्रकाश कांबले (ऋषिकेश जोशी) और जयप्रकाश (श्रीकांत वर्मा) की जोड़ी आपको हँसाने का काम करती है।

Acting

अभिषेक बच्चन ने Breathe Into the Shadows में काफी अच्छी एक्टिंग की है खासतौर पर आखरी एपिसोड में। मैंने अभिषेक बच्चन की इतनी अच्छी एक्टिंग लास्ट टाइम गुरु फिल्म में देखी थी।

नित्या मेनन, अमित साध, ऋषिकेश जोशी, श्रीकांत वर्मा और बाकि सभी ने अपना 100% दिया है।

Direction

Breathe Into the Shadows में इस प्रकार से कहानी को दिखाया गया है की हम कहानी में डूबते चले जाते है और आगे क्या होगा जानने की उत्सुकता मन में बनी रहती है। हम इसी से अंदाज़ा लगा सकते है की इस सीरीज की डायरेक्शन कितनी अच्छी है।

इस सीरीज में कैरेक्टर डेवलपमेंट पर अच्छे से काम किया गया है इस सीरीज को देखते वक्त आप हर कैरेक्टर के साथ अपना जुड़ाव महशूस करोगे।

Length

Breathe Into the Shadows सीरीज में कुल 12 एपिसोड है और प्रत्येक एपिसोड 40 से 45 मिनट का है। पूरी सीरीज को देख कर खत्म करने में साढ़े आठ से नौ घंटे का समय लग जाएगा।

Parental Guidance

इस सीरीज में कुछ किसिंग सीन देखने को मिलेंगे इसके आलावा गाली-गलौज, हत्या का सीन और सीरीज में कई जगहों पर नशा करते हुए दिखाया गया है अगर आप इतना कुछ फैमली के साथ देख सकते है तो ठीक है पर मेरी मानिए इस सीरीज को फैमली के साथ मत देखिए।

Conclusion

Breathe Into the Shadows को आप देख सकते है यह सीरीज आपको बोर नहीं करेगी। इस सीरीज से सम्बंधित कोई और सवाल हो तो आप कमेंट करें।

Anshu Kumar

नमस्कार दोस्तों, मैं अंशु कुमार filmiansh.in का Author और Founder हु। शिक्षा की बात करू तो मैंने B.B.A से अपना Graduation Complete किया है और साथ में डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स भी किया है। मुझे फिल्म, वेब सीरीज देखना और उसके बारे में दुसरो को बताना अच्छा लगता है। मेरा साथ देने के लिए आपका धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *