JL50 Review in Hindi | Abhay Deol | Pankaj Kapur

JL 50 शैलेंदर व्यास द्वारा निर्देशित (Directed) एक साइंस फिक्शन थ्रिलर वेब सीरीज है जो 04 सितम्बर 2020 को SonyLIV पर रिलीज़ हुई है। कुछ लोगो को यह सीरीज अच्छी लग रही है तो वही कुछ लोगो को यह सीरीज पसंद नहीं आ रही। आज हम JL50 का Review करेंगे और जानेंगे आपको यह सीरीज क्यू देखनी चाहिए और क्यू नहीं देखनी चाहिए।

JL50 Web Series Review

JL50 Review

Cast :- Abhay Deol, Pankaj Kapur, Rajesh Sharma, Piyush Mishra, Ritika Anand

Directed by :- Shailender Vyas

OTT :- SonyLIV

Rating :- 4/5 Star

Story

कहानी की शुरुआत होती है एक प्लेन क्रैश से और इसके बाद एक प्लेन AO26 के गायब होने की खबर आती है। AO26 में कुछ V.I.P लोग ट्रेवल कर रहे थे जिसके कारन सरकार पर दवाव होता है और जाँच के लिए यह केस CBI के पास जाती है।

CBI की तरफ से इस केस के जाँच के लिए शांतनु (अभय देवल) और गोरांगो (राजेश शर्मा) को भेजा जाता है। शांतनु वहाँ जाता है जहाँ प्लेन क्रैश हुआ है और वहाँ जाकर उन्हें पता चलता है, जो प्लेन क्रैश हुआ था वह AO26 नहीं JL50 है जो 35 साल पहले गायब हुआ था। JL50 में मात्र दो ही लोग जिन्दा बचे थे एक पायलट और एक यात्री।

कुछ ही समय बाद पता चलता है AO26 प्लेन को ABA के द्वारा हाईजैक कर लिया गया है और उनका माँग है ABA के लीडर पार्थो मजूमदार जो जेल में बंद है उसे रिहा करने की।

अब शांतनु और गोरांगो पूरी तरह से JL50 केस को सॉल्व करने में लग जाते है। यह केस देखने में टाइम ट्रेवल का लगता है पर शांतनु को लगता है की इसे Recreate किया गया है।

अब शांतनु JL50 की पायलट विहु घोष (रितिका आनंद) की जानकारी जुटाने में लग जाता है क्युकी शांतनु को लगता है वह पायलट विहु घोष नहीं बल्कि कोई और है। कुछ ही समय बाद शांतनु को विहु घोष का फोटो मिलता है और विहु घोष हूबहू जिन्दा बची पायलट की तरह दिखती है।

अब सबको यह टाइम ट्रेवल लगता है लेकिन शांतनु को लगता है एक ही सकल के दो व्यक्ति है।

क्या विहु घोष और जिन्दा बची पायलट एक ही है या अलग-अलग है, यह साजिश है या टाइम ट्रेवल इन सवालो का जवाब पाने के लिए आपको यह सीरीज देखनी पड़ेगी।

क्या आपको यह सीरीज देखनी चाहिए या नहीं

यह सीरीज बिलकुल नए कांसेप्ट बनी है जिसके कारन कुछ लोगो को यह सीरीज पसंद नहीं आ रही। अगर आपको हॉलीवुड की टाइम ट्रेवल वाली फिल्मे पसंद है तो यह फिल्म आपको जरूर अच्छी लगेगी।

Acting

इस सीरीज में अभय देवल की एक्टिंग उतनी अच्छी नहीं थी लेकिन बाकि बाद सभी का एक्टिंग काफी अच्छा है।

Direction

JL50 पहले एक फिल्म था जिसे बाद में 4 पार्ट में बाँट कर सीरीज बना दिया गया। यह सीरीज करीब दो घण्टे का है जिसकी वजह से character development अच्छे से नहीं किया गया है। मुझे डायरेक्शन character development को छोड़ कर बाकि बाद अच्छा लगा।

Camera work

इस सीरीज में आपको कुछ ड्रोन शॉट्स देखने को मिलते है जो देखने में काफी अच्छे लगते है। इस सीरीज का कैमरा वर्क बहोत अच्छा है।

Parental Guidance

इस सीरीज में एक भी एडल्ट सीन नहीं है यहाँ तक की एक किसिंग सीन भी नहीं है। इसमें ग्राफिक्स वॉयलेंस भी देखने को नहीं मिलता लेकिन कुछ गोलियाँ आवश्य चलती है जिसे इग्नोर किया जा सकता है। आप इस सीरीज को अपने परिवार के साथ देख सकते है।

Conclusion

JL50 एक नया कांसेप्ट पर बानी सीरीज है इसे आपको एक बार जरूर देखना चाहिए। आपको यह सीरीज बोर नहीं करेगी।

JL50 Review in Hindi पोस्ट को पढ़ने और हमारा साथ देने के लिए आपका धन्यवाद।

Anshu Kumar

नमस्कार दोस्तों, मैं अंशु कुमार filmiansh.in का Author और Founder हु। शिक्षा की बात करू तो मैंने B.B.A से अपना Graduation Complete किया है और साथ में डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स भी किया है। मुझे फिल्म, वेब सीरीज देखना और उसके बारे में दुसरो को बताना अच्छा लगता है। मेरा साथ देने के लिए आपका धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *